CentralBank of India-Rural Agri Banking
Central Bank Logo

वेयरहाउस रसीद के विरुद्ध वित्तपोषण की संशोधित योजना (ड्ब्ल्यूएचआर)

उद्देश्य

* गोदामों/कोल्ड स्टोरेज रसीदों की गिरवी के विरुद्ध वित्तपोषण.

पात्रता

* कृषि एवं सम्बद्ध गतिविधियों में प्रत्यक्षतः संलग्न वैयक्तिक किसान, एसएचजी, जेएलजी, कॉर्पोरेट्स, साझेदार फर्म और कृषकों की सहकारी संस्थाएं.
* खाद्य एवं कृषि आधारित प्रसंस्करण इकाईयां .
* प्रसंस्करणकर्ता, आढ़तिए एवं व्यापारी.

ऋण सुविधा की प्रकृति

* नकद साख/मांग ऋण.

ऋण की प्रमात्रा

* मार्जिन घटाते हुए निम्नलिखित में से न्यूनतम
(i) बाजार मूल्य,
(ii)न्यूनतम समर्थन मूल्य और
(iii) गोदाम रसीद में उल्लिखित मूल्य

मार्जिन

* 35%

प्रतिभूति

* प्राथमिक : -
गोदाम रसीद गिरवी रखना.
* सम्पार्श्विक : -
- केन्द्र / राज्य वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन और बैंक के साथ अनुबन्ध व्यवस्था के तहत अन्य सम्पार्श्विक प्रबन्धनों द्वारा जारी रसीद के मामलों में कोई सम्पार्श्विक नहीं.
- अन्य मामलों में :
- दो व्यक्तियों की तृतीय पक्ष गारंटी
- ऋण राशि के कम से कम 50% के समान परिसम्पत्ति का बन्धक/ प्रभर

ब्याज दर
(कृषि के लिए)

रु. 50,000/- तक
रु.50,000/- से अधिक व रु. 5 लाख तक
रु.5 लाख से अधिक व रु.25 लाख तक
रु.. 25 लाख से अधिक

आधार दर + 0.50%
आधार दर + 1.00%
आधार दर + 1.50%
आधार दर + 2.00%

(अन्य क्षेत्रों के लिए)

* अन्य क्षेत्रों अर्थात, एमएसएमई और गैर प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्रों के लिए उन्हीं क्षेत्रों के अनुसार ब्याज दरें लागू होंगी.

प्रक्रिया शुल्क

* @ रु.120/- प्रति लाख अथवा उसका भाग अधिकतम रु. 20,000/-.
(सीएमएस शुल्क, जहां लागू हो)

दस्तावेजीकरण शुल्क

* निरंक

पुनर्भुगतान

* 12 माह के अन्दर अथवा गोदाम रसीद की नियत तिथि को, जो भी पहले हो.

अतिरिक्त जानकारी के लिए कृपया हमारी नजदीकी शाखा से सम्पर्क करें.

पृष्ठ निर्माण के तहत

पृष्ठ निर्माण के तहत

(c) 2016 Central Bank of India. All rights reserved
आपकी आगंतुक संख्या हैं : 220476